पालनहार योजना राजस्थान 2020 | Palanhar Yojana Rajasthan Online Application

राजस्थान राज्य के अनाथ बच्चों को लाभ पहुंचाने के लिए राजस्थान सरकार ने Palanhar Yojana Rajasthan की शुरुआत की है। अनाथ बच्चों की विभिन्न परेशानियों को ध्यान में रखते हुए राजस्थान सरकार में इस अति महत्वपूर्ण योजना की शुरुआत की है। अनाथ बच्चों के उज्जवल भविष्य के लिए राजस्थान सरकार की यह एक बहुत अच्छी पहल है। जैसा कि आप सभी जानते हैं माता-पिता की मृत्यु के बाद अनाथ बच्चों को जीवन में कई प्रकार की समस्याओं का सामना करना पड़ता है इसीलिए राजस्थान सरकार ने अनाथ बच्चों के पालन पोषण एवं शिक्षा की व्यवस्था के लिए उनके निकटतम रिश्तेदारों को या परिवार के लोगों को अनाथ बच्चों का पालनहार बनाने के लिए इस योजना की शुरुआत की है। Palanhar Yojana 2020

योजना का नामपालनहार योजना
राज्यराजस्थान
आवेदन प्रक्रियाऑनलाइन एवं ऑफलाइन
ऑफिसियल वेबसाइटClick here
Palanhar Yojana

Palanhar Yojana

राजस्थान में रह रहे अनाथ बच्चों के पालन पोषण एवं शिक्षा की व्यवस्था के लिए राजस्थान सरकार ने पालनहार योजना की शुरुआत की है। इस योजना के अनुसार राज्य के अनाथ बच्चों को उनके निकटतम रिश्तेदार या किसी पारिवारिक व्यक्ति को उस बच्चे का पालनहार बनाया जाएगा। पालनहार बनाने के बाद अनाथ बच्चे की परवरिश करने वाले व्यक्ति को सरकार की ओर से शिक्षा, भोजन वस्त्र और अन्य प्रकार की सभी सुविधाओं को मुहैया कराया जाएगा।

पालनहार योजना राजस्थान क्या है

इस योजना के अनुसार 5 वर्ष की आयु वाले बच्चे को ₹500 प्रति माह की राशि सरकार द्वारा की जाएगी। जब बच्चा 18 साल की आयु पूर्ण कर लेगा तब उसे ₹1000 प्रति माह के हिसाब से राशि दी जाएगी। इसके अलावा अनाथ बच्चे को ₹2000 की धनराशि प्रतिवर्ष अलग से उपलब्ध कराई जाएगी। इस प्रकार अनाथ बच्चे के बचपन से लेकर बड़े होने तक उसकी शिक्षा तथा पालन पोषण का खर्च राज्य सरकार उठाएगी। इस प्रकार की योजना संचालित करने वाला राजस्थान पहला राज्य है। पालनहार योजना की देशभर में तारीफ की जा रही है। सभी राज्य सरकारों को अपने राज्य में रहने वाले अनाथ बच्चों के लिए इस प्रकार की योजना की शुरुआत करनी चाहिए।

Palanhar Yojana का उद्देश्य

अक्सर देखा गया है कि माता पिता की मौत के बाद अनाथ बच्चे हो जीवन में कई प्रकार की समस्याओं का सामना करना पड़ता है। अनाथ बच्चों की समस्याओं को ध्यान में रखते हुए राजस्थान सरकार ने पालनहार योजना की शुरुआत की है।

Also Read - Rajasthan SSO | SSO ID Registration | राजस्थान SSO ID रजिस्ट्रेशन कैसे करें

पालनहार योजना के लाभ

  • इस योजना में पालनहार करने वाले परिवार को अनाथ बच्चे के पालन पोषण के लिए 5 वर्ष की आयु से ₹500 की राशि प्रतिमाह सरकार द्वारा देना शुरू की जाएगी।
  • 18 वर्ष की आयु में आने के बाद अनाथ बच्चे पालन पोषण के लिए 1000 रुपये प्रतिमाह की राशि उपलब्ध कराई जाएगी।
  • इस योजना से अनाथ बच्चों के जीवन स्तर में सुधार होगा।
  • अगर राज्य का अनाथ बच्चा अपनी पढ़ाई करना चाहता है तो इस योजना की सहायता से वह राज्य सरकार के खर्चे से अपनी पढ़ाई भी पूरी कर सकता है।
  • पालनहार योजना वाले बच्चे को अनाथ आश्रम में ना रह कर अपने परिवार के लोगों के साथ रहने का मौका मिलेगा।

पालनहार योजना के लिए शर्ते

  • पालनहार योजना के लिए आवेदन करने वाले पालनहार परिवार की वार्षिक आय 1 लाख 20 हजार से अधिक नहीं होनी चाहिए।
  • जिन अनाथ बच्चों को पालनहार योजना में आवेदन हो रहा है उन्हें 2 वर्ष की आयु में आंगनवाड़ी केंद्र तथा 6 वर्ष की आयु में स्कूल में भेजना अनिवार्य है।
  • अनाथ बच्‍चे
  • न्‍यायिक प्रक्रिया से मृत्‍यु दण्‍ड/ आजीवन कारावास प्राप्‍त माता-पिता की संतान
  • निराश्रित पेंशन की पात्र विधवा माता की अधिकतम तीन संताने
  • नाता जाने वाली माता की अधिकतम तीन संताने
  • पुर्नविवाहित विधवा माता की संतान
  • एड्स पीडित माता/पिता की संतान
  • कुष्‍ठ रोग से पीडित माता/पिता की संतान
  • विकलांग माता/पिता की संतान
  • तलाकशुदा/परित्‍यक्‍ता महिला की संतान

पालनहार योजना के लिए महत्वपूर्ण दस्तावेज

  • पालनहार का आधार कार्ड
  • अनाथ बच्चे का आधार कार्ड
  • भामाशाह कार्ड
  • मूल निवासी प्रमाण पत्र
  • राशन कार्ड
  • परिचय पत्र
  • मोबाइल नंबर
  • बैंक अकाउंट
  • पासपोर्ट साइज फोटो

राजस्थान पालनहार योजना के लिए आवेदन कैसे करें

  • पालनहार योजना में आवेदन करने के लिए आपको सोशल जस्टिस एंड एंप्लॉयमेंट डिपार्टमेंट की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाना होगा।
  • वहां से आपको पहचान पालनहार योजना योजना का एप्लीकेशन फॉर्म डाउनलोड करना होगा।
  • एप्लीकेशन फॉर्म में सभी जानकारी को ध्यानपूर्वक सुना होगा।
  • सभी जरूरी दस्तावेजों को एप्लीकेशन फॉर्म के साथ अटैच करना होगा।
  • अब आप एप्लीकेशन फॉर्म को जिला अधिकारी या फिर ग्राम पंचायत में जाकर जमा कर सकते हैं।
  • इस तरह आप आप पालनहार योजना के लिए आवेदन हो जाएगा।

Leave a Comment

%d bloggers like this: