मुख्यमंत्री कृषक उद्यमी योजना 2020 | Mukhyamantri Krishak Udhyami Yojana Online Apply

किसान तथा उनके बच्चों के उज्जवल भविष्य के लिए मध्य प्रदेश सरकार में मुख्यमंत्री कृषक उद्यमी योजना (Mukhyamantri Krishak Udhyami Yojana) की शुरुआत की है। इस योजना के तहत राज्य के किसानों को सरकार की तरफ से ऋण के रूप में आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी। इस योजना के अनुसार किसानों के बच्चों को सस्ती दरों पर ऋण उपलब्ध कराया जाएगा। किसानों के परिवार को आर्थिक रूप से मजबूत बनाने के लिए मध्य प्रदेश सरकार ने मुख्यमंत्री कृषक उद्यमी योजना की शुरुआत की है। आज हम इस पोस्ट में आपको मुख्यमंत्री कृषक उद्यमी योजना के बारे में विस्तारपूर्वक जानकारी देंगे तथा यह भी बताएंगे कि आप Mukhyamantri Krishak Udhyami Yojana का लाभ किस प्रकार ले सकते हैं।

योजना का नाममुख्यमंत्री कृषक उद्यमी योजना
राज्यमध्यप्रदेश
आवेदन प्रक्रियाऑनलाइन
ऑफिसियल वेबसाइटClick Here
Mukhyamantri Krishak Udhyami Yojana

मुख्यमंत्री कृषक उद्यमी योजना

राज्य के किसानों तथा उनके बच्चों के लिए मुख्यमंत्री कृषक उद्यमी योजना बेहद लाभदायक है। इस योजना के तहत किसान के बच्चों को 50 हजार से लेकर 2 करोड़ तक का ऋण मध्यप्रदेश सरकार उपलब्ध कराएगी। राज्य सरकार द्वारा यह ऋण 15% अनुदान के साथ प्रदान किया जाएगा। इसके अलावा अगले 7 वर्षों के ब्याज पर भी राज्य सरकार द्वारा 5% अनुदान दिया जाएगा। किसानों का जीवन स्तर सुधारने के लिए राज्य सरकार ने इस योजना की शुरुआत की है। इस योजना की सहायता से किसान के बच्चे कृषि संबंधित उद्योग खोलकर अपना जीवन स्तर सुधार सकते हैं।

मुख्यमंत्री कृषक उद्यमी योजना का उद्देश्य

जैसा कि आप सभी जानते हैं किसानों को फसल लगाने से लेकर फसल आने तक कई प्रकार के समस्याओं का सामना करना पड़ता है। कई बार किसानों को मौसम की मार भी झेलना पड़ती है जिससे उनकी सारी फसल नष्ट हो जाती है। फसल बिगड़ने की वजह से किसान को बेहद नुकसान होता है। इसी समस्या को ध्यान में रखते हुए मध्य प्रदेश सरकार ने किसानों के बच्चों के उज्जवल भविष्य के लिए मुख्यमंत्री कृषक उद्यमी योजना की शुरुआत की है। इस योजना का मुख्य उद्देश्य किसानों के बच्चों को आर्थिक सहायता प्रदान कर उनका जीवन स्तर सुधारना है।

Also Read - मुख्यमंत्री युवा उद्यमी योजना 2020

Mukhyamantri Krishak Udhyami Yojana (कृषक उद्यमी योजनाका लाभ)

  • इस योजना के तहत किसानों के बच्चों को सरकार की तरफ से आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी।
  • कृषक उद्यमी योजना से किसानों के बच्चों को आसानी से ऋण प्राप्त हो जाएगा।
  • इस योजना से किसान तथा उनके बच्चों का जीवन स्तर सुधरेगा।
  • नए कृषि उद्योग खुलने से बेरोजगारों को रोजगार मिलेगा।
  • मुख्यमंत्री कृषक उद्यमी योजना से किसानों के बच्चों को 10 लाख से लेकर 2 करोड का लोन दिया जाएगा।
  • इस योजना से किसान के परिवार की आय की आय में वृद्धि होगी।
  • किसान परिवार के बच्चों की धन संबंधी समस्या खत्म होगी।

कृषक उद्यमी योजना के लिए वित्तीय सहायता

  • मुख्यमंत्री कृषक उद्यमी योजना के तहत लाभार्थी को अधिकतम 2 करोड़ की राशि आवंटित की जा सकती है।
  • आवेदन करने वाले व्यक्ति को लागत पर दी जाने वाली मार्जिन मनी सहायता 15% है जो अधिकतम 12 लाख रुपए हैं।
  • अगर आवेदन करने वाला व्यक्ति बीपीएल कार्ड धारक हेतु उसकी मार्जिन मनी सहायता 20% है जो अधिकतम 18 लाख है।
  • इस योजना में आवेदन करने वाले पुरुषों को 5% तथा महिलाओं को 6% तक का ब्याज अनुदान दिया जाएगा। इसकी समय अवधि 7 वर्ष होगी।

कृषक उद्यमी योजना की पात्रता

  • आवेदन करने वाला मध्यप्रदेश राज्य का निवासी होना चाहिए।
  • आवेदन करने वाले की आयु 18 वर्ष से 40 वर्ष के बीच होनी चाहिए।
  • आवेदन करने वाले किसान पुत्र या पुत्री के माता पिता के पास स्वयं की कृषि भूमि होना आवश्यक है।
  • आवेदन करने वाले व्यक्ति पहले से ही किसी व्यापार या उद्योग के लिए आयकरदाता नहीं होना चाहिए।
  • जो व्यक्ति पहले से ही सरकार की अन्य स्वरोजगार योजना का लाभ ले रहा हो वह इस योजना के लिए पात्र नहीं होगा।
  • आवेदन करने वाला किसी बैंक से डिफाल्टर नहीं होना चाहिए।
  • एक व्यक्ति इस योजना का लाभ बस एक बार ही ले सकता है।
  • आवेदन करने वाला व्यक्ति 10वी पास होना चाहिए।
  • आवेदन करने वाले व्यक्ति के पास मध्य प्रदेश का बोनाफाइड होना अनिवार्य है।
Also Read - मुख्यमंत्री युवा स्व-रोजगार योजना मध्यप्रदेश 2020

मुख्यमंत्री कृषक उद्यमी योजना में आवेदन करने के लिए जरूरी दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • परिचय पत्र
  • निवास प्रमाण पत्र
  • जाति प्रमाण पत्र
  • 10वीं की मार्कशीट
  • खेती संबंधित जरूरी दस्तावेज
  • राशन कार्ड
  • बैंक पासबुक

कृषक उद्यमी योजना में शामिल उद्योग एवं व्यवसाय

  • एग्रो प्रोसेसिंग
  • मिल्क प्रोसेसिंग
  • फूड प्रोसेसिंग
  • कोल्ड स्टोरेज
  • पोल्ट्री फीड
  • वेजिटेबल
  • दाल मिल
  • राइस मिल
  • फ्लोर मिल
  • बेकरी
  • मसाला जैसे आदि कृषि सम्बंधित उद्योग

इस योजना को संचालित करने वाले विभाग

  • सूक्ष्म, लघु और मध्य उद्यम विभाग 
  • कुटीर एवं ग्रामोद्योग विभाग
  • माटी कला बोर्ड 
  • हथकरघा और हस्तशिल्प निदेशालय 
  • मध्य प्रदेश सहकारी अनु.जाति वित्त एवं विकास निगम
  • जनजातीय कार्यविभाग आदिवासी वित्त एवं विकास निगम  
  • पिछड़ा वर्ग एवं अल्पसंख्यक कल्याण विभाग 
  • विमुक्त घुमाकड़ एवं अद्र्ध घुमक्कड़ जनजाति कल्याण विभाग 
  • पशुपालन विभाग 
  •  मछुआ कल्याण तथा मत्स्य पालन विभाग 
  •  किसान कल्याण तथा कृषि विकास विभाग 
  •  पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग 
  •  नगरीय विकास एवं आवास विभाग  
  •  उद्यानिकी एवं खाद्य प्रसंस्करण विभाग

मुख्यमंत्री कृषक उद्यमी योजना में आवेदन कैसे करें

मुख्यमंत्री कृषक उद्यमी योजना में आवेदन करने के लिए सबसे पहले आपको इसकी ऑफिशल वेबसाइट पर जाना होगा। नीचे हमने सरलता पूर्वक बताया है कि आप किस प्रकार इस योजना के लिए आवेदन कर सकते हैं।

  • सबसे पहले आपको इसकी ऑफिशल वेबसाइट पर जाना होगा।
  • होम पेज पर आपको मुख्यमंत्री कृषक उद्यमी योजना का ऑप्शन दिखाई देगा उस पर क्लिक करना होगा।
मुख्यमंत्री कृषक उद्यमी योजना
  • अब आपके सामने विभागों की सूची आएगी, विभाग का चयन करना होगा।
  • अब आपके सामने एक नया पेज खुलेगा जिसमें आपको लॉगइन का ऑप्शन दिखाई देगा अगर आपकी आईडी पहले से बनी हैं तो आपको लॉग इन करना होगा अगर नहीं बनी है तो आपको यहां आई डी बनाना होगी।
  • लॉगिन करने के बाद आपके सामने रजिस्ट्रेशन फॉर्म खुलेगा।
  • रजिस्ट्रेशन फॉर्म में पूछे गई सभी जानकारी आपको भरना होगी तथा जरूरी दस्तावेजों को अपलोड करना होगा।
  • इस तरह मुख्यमंत्री कृषक उद्यमी योजना के लिए आपका आवेदन हो जाएगा।

Leave a Comment

%d bloggers like this: